स्मिता बंसल लेखक के तौर पर डेब्यू को लेकर काफी उत्साहित हैं

थियेटर में स्क्रिप्टराइटर के तौर पर 'हैलो जिंदगी' से नए पड़ाव की शुरुआत करने वाली अभिनेत्री स्मिता बंसल का मानना है कि वह अपने काम से लोगों के चेहरे पर मुस्कान छोड़ना चाहती हैं।

स्मिता बंसल लेखक के तौर पर डेब्यू को लेकर काफी उत्साहित हैं
स्मिता बंसल

थियेटर में स्क्रिप्टराइटर के तौर पर 'हैलो जिंदगी' से नए पड़ाव की शुरुआत करने वाली अभिनेत्री स्मिता बंसल का मानना है कि वह अपने काम से लोगों के चेहरे पर मुस्कान छोड़ना चाहती हैं।

फेलीसिटी थियेटर द्वारा निर्मित इस नाटक का मंचन शुक्रवार को एनसीपीए के टाटा थियेटर में होगा। रमन कुमार द्वारा निर्देशित इस नाटक की कहानी पांच अलग क्षेत्रों से आई महिलाओं के ईर्द-गिर्द घूमती हैं, जो मुंबई के एक पौश मकान में एकसाथ रहती हैं।

इसमें मिनीषा लांबा, किश्वर मर्चेट, डलनाज ईरानी, गुड्डी मारुती और चित्रासी रावत नजर आएंगी।

अभिनेत्री ने कहा, "मैंने स्क्रिप्ट लिखने की शुरुआत करीब दो साल पहले से की थी, हालांकि तब मैं प्रोफेशनल लेखिका नहीं थी।"

इस नाटक की तुलना स्मिता ने रोलर-कोस्टर राइड से की।


Follow @_aBoxOffice