गुजराती फिल्मों में काम करने की ख्वाहिश : श्रेयस तलपड़े

अभिनेता श्रेयस तलपड़े का कहना है कि अगर उन्हे गुजराती फिल्मों में काम करने का मौका मिलता है, तो वो करना पसंद करेंगे।

गुजराती फिल्मों में काम करने की ख्वाहिश : श्रेयस तलपड़े
श्रेयस तलपड़े

अभिनेता श्रेयस तलपड़े का कहना है कि अगर उन्हे गुजराती फिल्मों में काम करने का मौका  मिलता है, तो  वो करना पसंद करेंगे।

अभिनेता ने विपुल मेहता की गुजराती फिल्म 'चाल जीवी लाइए' की सफलता का जश्न मनाने के लिए हुई पार्टी के दौरान मीडिया से बात की।

हिंदी और मराठी फिल्मों में काम कर चुके श्रेयस से जब पूछा गया कि क्या वह गुजराती फिल्मों में काम करना पसंद करेंगे तो उन्होंने कहा, "बिल्कुल। भाषा मेरे लिए कभी बाधा नहीं बनी। अगर कोई दिलचस्प पटकथा या भूमिका मुझे मिलती है तो मैं गुजराती फिल्म का हिस्सा बनना चाहूंगा। बल्कि, एक समय था जब मैं एक गुजराती फिल्म करने वाला था। यह मेरी पहली हिंदी फिल्म 'इकबाल' की रिलीज के पहले की बात है लेकिन चीजें ठीक नहीं रहीं और ऐसा नहीं हो सका।"

गुजराती फिल्म का निर्देशन करने की संभावना के बारे में पूछने पर उन्होंने कहा, "मैं निर्देशन के बजाय अभिनय करना ज्यादा पसंद करूंगा। मैं निर्देशन तभी करूंगा जब मैं गुजराती फिल्मों को अच्छे से समझने लगूंगा लेकिन मैं निश्चित रूप से गुजराती फिल्म का निर्माण करना चाहूंगा। अगर ये फिल्में 50 करोड़ की कमाई कर रही हैं तो फिर भला कौन उनका निर्माण नहीं करना चाहेगा।"


Follow @_aBoxOffice