खुद को इतना असुरक्षित महसूस कर रहा हूं : टाइगर श्रॉफ

असुरक्षा की भावना से इस कदर प्रेरित हैं टाइगर कि उन्हें हमेशा अनुमोदन और सराहना की तलाश रहती है।

खुद को इतना असुरक्षित महसूस कर रहा हूं : टाइगर श्रॉफ
टाइगर श्रॉफ

असुरक्षा की भावना से इस कदर प्रेरित हैं टाइगर कि उन्हें हमेशा अनुमोदन और सराहना की तलाश रहती है।

एक्टिंग से जुड़े कई लोगों का ऐसे कहना है कि इस पेशे में लोगों को हमेशा असुरक्षा की भावना रहती है क्योंकि चीजें कभी भी बदल सकती हैं। मशहूर बॉलीवुड अभिनेता जैकी श्रॉफ के बेटे टाइगर श्रॉफ इस बात से बिल्कुल सहमत हैं।

इंडस्ट्री में पांच साल पूरे कर चुके टाइगर ने बताया, "यह सच है। मैं असुरक्षित हूं और इसी के चलते मुझे हमेशा सराहने की जरूरत पड़ती है..मैं कैसा काम कर रहा हूं..क्या मेरे पिता इसे पसंद करेंगे? क्या मेरे फैन्स मेरे काम की सराहना करेंगे? ऋतिक रोशन सर के साथ काम करने के दौरान मुझे ऐसा लगा कि वह मेरे काम से प्रभावित हैं..वह मेरे हीरो हैं और मुझे उम्मीद है कि मैं उन्हें निराश नहीं कर रहा हूं।"

टाइगर ने साल 2014 में 'हीरोपंती' से अपना डेब्यू किया और इसके बाद 'बाघी', 'ए फ्लाइंग जट्ट', 'मुन्ना माइकल', 'बाघी 2' और 'स्टूडेंट ऑफ द ईयर 2' जैसी फिल्मों में काम किया।

29 वर्षीय टाइगर के मार्शल आर्ट कौशल ने बॉलीवुड में एक्शन की शैली को फिर से परिभाषित किया है जैसा कि 80 या 90 के दशक और कुछ हद तक साल 2000 में होता था।

आजकल निर्देशक और अभिनेता एक्शन जॉनर को एक्सप्लोर करने में इतने आशंकित क्यों रहते हैं?

इस सवाल के जवाब में टाइगर ने कहा, "शायद आजकल के कलाकारों का झुकाव भिन्न शैली के फिल्मों के प्रति है। यहां तक कि निर्देशक भी 80 और 90 के दशक की तुलना में अलग-अलग शैली की फिल्मों को बनाने के लिए ज्यादा प्रेरित होते हैं।"

हालांकि टाइगर का कहना है कि वह अपनी एक्शन फिल्मों के जरिए विश्व भर में दर्शकों का मनोरंजन करना चाहते हैं और यही उनका लक्ष्य है।

इन्हीं कुछ सालों में टाइगर को ट्विटर पर 30 लाख से ज्यादा लोग फॉलो करते हैं और इंस्टाग्राम पर उनके 1.44 करोड़ फॉलोअर्स हैं और टाइगर के ऑफिशयल फेसबुक पेज पर 80 लाख लाइक हैं।

जब टाइगर से यह पूछा गया कि उनकी निजी जिंदगी पर हमेशा लोगों की नजर रहती है तो इस पर उनकी क्या प्रतिक्रिया है? 

टाइगर ने इसके जवाब में कहा कि उन्हें इससे कोई ऐतराज नहीं है क्योंकि टाइगर का ऐसा मानना है कि लोग ऐसा तभी करते हैं जब वे कहीं न कहीं आपसे प्रभावित होते हैं या किसी न किसी वजह से आपने उन पर अपना छाप छोड़ा है।


Follow @_aBoxOffice