जिन्हें शब्द नहीं बयां कर सकते, उन्हें संगीत कर सकती है : शान

आगामी विश्व पर्यावरण के दिवस पर लोगों को वायु प्रदुषण के प्रति जागरूक करने के उद्देश्य से शान ने एक गाना गाया है जिसके बोल हैं - "हवा आने दे।"

जिन्हें शब्द नहीं बयां कर सकते, उन्हें संगीत कर सकती है : शान
शान

आगामी विश्व पर्यावरण के दिवस पर लोगों को वायु प्रदुषण के प्रति जागरूक करने के उद्देश्य से शान ने एक गाना गाया है जिसके बोल हैं - "हवा आने दे।"

शान ने कहा है कि किसी भी संदेश को प्रभावपूर्ण तरीके से बयां करने की शक्ति संगीत में है।

शान, जिन्होंने इस गाने को संगीत से सजाया भी है, ने बताया, "लोगों को वायु प्रदुषण के प्रति जागरूक करना ही इस गाने का मूल उद्देश्य है। मैं एक रचनात्मक व्यक्ति हूं और मेरे कुछ सामाजिक उत्तरदायित्व हैं जिसकी शुरुआत यहीं से होती है।"

शान ने आगे यह भी कहा, "ऐसा नहीं है कि भामला फाउंडेशन ने मुझे इसे गाने को कहा तो मैं ऐसा कर रहा हूं बल्कि मुझे ऐसा महसूस होता है कि संगीत के माध्यम से आप हर उस चीज को कह सकते हैं जिन्हें शब्दों से बयां करना मुश्किल होता है।"

शान का ऐसा भी मानना है कि यही वजह है कि आजकल सामाजिक बदलाव को लेकर कई सारे गाने बन रहे हैं।

इस गीत के निर्माता भामला फाउंडेशन है और स्वानंद किरकिरे ने इसे लिखा है। हंगामा म्यूजिक ऐप पर यह उपलब्ध है।

इस वीडियो में अक्षय कुमार, आयुष्मान खुराना, राजकुमार राव, विक्की कौशल, कपिल शर्मा, शान, शंकर महादेवन और सुनिधि चौहान जैसे कलाकार शामिल हैं।

इसे श्यामक डावर ने कोरियोग्राफ किया है, जो खुद भी इस वीडियो के एक हिस्सेदार हैं।

विश्व पर्यावरण दिवस 5 जून को है।


Follow @_aBoxOffice