खुद के साथ हुए मीटू वाकया को इस तरह से बयां किया अभिनेत्री श्रुति मराठे ने

'असा मी तसा मी' और 'प्रमेसूत्र' जैसी मराठी फिल्मों में अपने दमदार अभिनय के लिए मशहूर अभिनेत्री श्रुति मराठे ने एक फिल्म में मुख्य भूमिका के लिए ऑडिशन देते वक्त फिल्म निर्माता द्वारा दुर्व्यवहार किए जाने के बारे में पोस्ट किया है।

खुद  के साथ हुए मीटू वाकया को इस तरह से बयां  किया अभिनेत्री श्रुति मराठे ने
श्रुति मराठे

'असा मी तसा मी' और 'प्रमेसूत्र' जैसी मराठी फिल्मों में अपने दमदार अभिनय के लिए मशहूर अभिनेत्री श्रुति मराठे ने एक फिल्म में मुख्य भूमिका के लिए ऑडिशन देते वक्त फिल्म निर्माता द्वारा दुर्व्यवहार किए जाने के बारे में पोस्ट किया है।

ह्यूमन ऑफ बॉम्बे इंस्टाग्राम के आधिकारिक पेज पर एक पोस्ट साझा करते हुए श्रुति ने फिल्म जगत में व्याप्त कास्टिंग काउच के मुद्दे पर अपनी बात कही है। साथ ही उन्होंने यह भी लिखा है कि निर्माता द्वारा उनसे कॉम्प्रोमाइज करने के लिए कहे जाने पर उन्होंने कैसे जवाब दिया। 

उन्होंने कहा, "एक बार मैं एक निर्माता से मिली, जिन्होंने मुझे मुख्य किरदार का ऑफर दिया था। पहले उन्होंने प्रोफेशनल नोट के साथ मेरा ऑडिशन शुरू किया लेकिन जल्द ही वह 'कॉम्प्रोमाइज' और 'वन नाइट' की बात करने लग गए। मैं इसे ऐसे ही जाने नहीं दे सकती थीं, इसलिए मैंने उनसे पूछा कि अगर आप चाहते हैं कि मैं आपके साथ सोऊं तो आप किस हीरो के साथ सो रहे हैं? मेरी इन बातों को सुनकर वह स्तब्ध रह गए।"

पोस्ट में कहा गया, "मैंने तुरंत उनके बर्ताव के बारे में कई लोगों को बताया, जिसके बाद उन लोगों ने मुझे सुझाव दिया कि मुझे इस फिल्म को छोड़ देना चाहिए। उस दिन यह सब होने के नाते निडर होने का एक मिनट था।"

श्रुति ने एक तमिल फिल्म में अपने बिकनी सीन को भी याद किया कि कैसे वह सोशल मीडिया पर एक विवाद बन गया और कई लोगों ने उन्हें ट्रोल किया।

उन्होंने कहा, "लोगों की यह गलत धारणा है कि अभिनेता बड़े आराम से अपना जीवन जीते हैं और हमेशा अच्छा महसूस करते हैं। यह सच नहीं है। चाहे हमें पसंद हो या न हो, चाहे हमें सही लगे या नहीं, हमें अपना अच्छा चेहरा ही बाहर दिखाना होता है। यहां कोई 'बुरे दिन' नहीं होते।" 


Follow @_aBoxOffice